in

UGC ने इस विश्वविद्यालय को बताया फर्जी व अमान्य, छात्रों को एडमिशन लेने से किया मना

 

यूजीसी ने एक नोटिस जारी कर के छात्रों को सावधान किया है कि वे Digital University Of Skill Resurgence, वर्धा में भूलकर भी प्रवेश न लें। यूजीसी ने इस संस्थान को फर्जी बताया है और कहा है कि यह UGC act 1956 का उल्लंघन है।

इससे संबंधित UGC ने नोटिस जारी किया है और बताया है कि Digital University Of Skill Resurgence, वर्धा, महाराष्ट्र में स्थित हैं। इस यूनिवर्सिटी में भिन्न भिन्न तरह के पाठ्यक्रमों के संचालन होते हैं। यह एक पूरी तरीके से स्क्घोषित संस्थान है। यह UGC अधिनियम 1956 का उल्लंघन करके भिन्न भिन्न प्रकार के कोर्सेज कराता है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी की यूजीसी ने जारी नोटिस में बताया है की न तो यह युनिवर्सिटी की सूची में धारा 2 व धारा 3 में सूचीबद्ध है। इसे यूजीसी अधिनियम 1956 के तहत कोई भी डिग्री प्रदान करने का अधिकार नहीं है। यह यूनिवर्सिटी पूरी तरह से फर्जी है यह UGC act 1956 का उल्लंघन है।’

UGC ने जारी की गई नोटिस में  नियमों को बताते हुए कहा कि, ‘जो भी विश्वविद्यालय केंद्रीय, प्रांतीय अथवा राज्यीय एक्ट द्वारा स्थापित न हुआ हो उस संस्थान को विश्वविद्यालय नहीं कहा जा सकता है। इसलिए इस संस्थान को भी अपने नाम के आगे विश्वविद्यालय लगाने का बिल्कुल भी कोई अधिकार नहीं है।’

इसके अतिरिक्त यूजीसी ने आम लोगों और छात्रों से अपील की है और कहा है कि लोग अपने बच्चों को इस विश्वविद्यालय में प्रवेश न दिलाएं और न ही कोई छात्र इस विश्वविद्यालय में प्रवेश ले क्योंकि इसमें एडमिशन लेने से छात्रों का करियर चौपट हो सकता है।

 

Written by AU Beat Media

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading…

0

Work From Home Jobs : घर बैठे करें नौकरी और कमाएं 5 हजार से लेकर 12,000 रू तक, जानिए पूरी जानकारी

Success Story: एक ऐसे कुली की कहानी , जिसने रेलवे स्टेशन के Free WiFi से पढ़कर लहरा दिया यूपीएससी में परचम