in

इलाहाबाद विश्वविद्यालय और संबद्ध कॉलेजों में 40 हजार छात्र-छात्राएं प्रमोट

इलाहाबाद विश्वविद्यालय और संबद्ध कॉलेजों के स्नातक, परास्नातक, विधि और प्रोफेशनल पाठ्यक्रम के तकरीबन 40 हजार छात्र-छात्राओं को शुक्रवार को प्रोन्नत कर दिया गया। इविवि प्रशासन ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। अगली कक्षा में प्रोन्नत किए गए छात्रों को सात सितंबर तक फीस जमा करने के लिए कहा गया है। वहीं, स्नातक अंतिम वर्ष और परास्नातक अंतिम सेमेस्टर के छात्रों को परीक्षा के लिए तैयार रहना होगा। द्वितीय से तृतीय सेमेस्टर में प्रोन्नत किए गए स्नातक के छात्र-छात्राओं को विषय आवंटन के फॉर्म 27 अगस्त तक सब्मिट करने है, क्योंकि द्वितीय वर्ष में उनके पास तीन विषय थे और तृतीय वर्ष में उन्हें इनमें से कोई दो विषय चुनने होंगे। विषय आवंटन के फॉर्म ऑनलाइन सब्मिट किए जाने की तैयारी चल रही है, ताकि इविवि में छात्र-छात्राओं की भीड़ इकट्ठा न हो। अंतिम वर्ष की परीक्षा के लिए इविवि प्रशासन ने फार्मूला तैयार कर लिया गया है। सुप्रीम कोर्ट और यूजीसी के आदेश का इंतजार है।

इविवि कॉलेजों में तकरीबन अंतिम वर्ष के 20 हजार छात्र परीक्षा में शामिल होंगे। अंतिम वर्ष और अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं दो घंटे की होंगी। इसमें छात्र-छात्राओं को केवल चार सवालों का ही जवाब देना होगा। प्रयोगात्मक का आकलन वाइवा एवं असाइनमेंट के आधार पर होगा। जरूरत पड़ी तो वाइवा ऑनलाइन मोड में कराई जा सकती है। कोई छात्र किसी पेपर में फेल होता है तो वह द्वितीय परीक्षा में शामिल हो सकता है। कोरोना के चलते यह नियम इसी सत्र के लिए प्रभावी रहेगा। ताकि एकेडमिक कैलेंडर प्रभावित न हो सके।

प्रमोशन के बाद भी देनी होगी पिछले वर्ष की परीक्षा:

अगली कक्षा में प्रमोट किए गए स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों को आगे चलकर अपनी पिछली कक्षाओं की परीक्षाएं भी देनी होंगी। स्नातक प्रथम से द्वितीय वर्ष में प्रमोट किए गए छात्रों को जाड़े की छुट्टी में प्रथम वर्ष की परीक्षा देनी होगी। वहीं, द्वितीय से तृतीय वर्ष में प्रमोट किए गए छात्रों को अक्तूबर के मध्य में द्वितीय वर्ष की परीक्षा देनी होगी। अगर किसी कारण वर्ष अक्तूबर के मध्य तक परीक्षा कराने की स्थिति नहीं बनती है तो छात्रों को पिछली कक्षा में मिले अंकों के औसत के आधार पर द्वितीय वर्ष की मार्कशीट दी जाएगी। अगर छात्र मार्कशीट में मिले अंकों से संतुष्ट नहीं है तो वह सत्र 2020-21 के दौरान आगे चलकर द्वितीय वर्ष के अपने सभी विषयों की परीक्षाएं दे सकेंगे।

Written by AU Beat Media

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading…

0

इविवि के छात्र शहीद लाल पद्मधर की कसमें खाता है छात्रसंघ, आज है उनका शहादत दिवस

इविवि की अंतिम वर्ष – सेमेस्टर की परीक्षा होगी ऑनलाइन, जानिए कैसे देना होगा परीक्षा