in

यूपी के विश्वविद्यालयों व कॉलेजों के छात्रों को बिना परीक्षा प्रमोट को लेकर आज होगा फैसला, UGC गाइडलाइंस का आना बाकी

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (University Grants Commission, UGC) 2 जुलाई 2020 दिन गुरुवार को विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों, डीम्ड विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों में विभिन्न पाठ्यक्रमों की अंतिम वर्ष या सेमेस्टर की परीक्षाओं के लिए नए दिशानिर्देश (guidelines) जारी कर सकता है। उत्तरप्रदेश सरकार को उम्मीद है कि कल यूजीसी के आधार पर अपने विश्वविद्यालय परीक्षाओं के लिए एक गाइडलाइन जारी किया जाएगा। दरअसल, हाल ही में, उत्तर प्रदेश राज्य के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने जानकारी दी थी कि विश्वविद्यालय के अंतिम वर्ष / अंतिम सेमेस्टर के लिए जुलाई के महीने में परीक्षा आयोजित करने या स्थगित करने या आंतरिक अंकों के आधार पर छात्रों को प्रमोट करने को लेकर 2 जुलाई को फैसला लिया जाएगा। यह फैसला यूजीसी के दिशा-निर्देशों के आधार पर किया जाएगा। यूजीसी ने एक जुलाई को कोई गाइडलाइंस जारी नहीं की है, इसलिए उम्मीद की जा रही है कि आज किसी भी समय गाइडलाइंस जारी हो सकती है और इसी के साथ यूपी विश्वविद्यालय के अंतिम वर्ष / अंतिम सेमेस्टर एग्जाम का भी फैसला होगा।

प्रत्येक विषय के नंबर बनेंगे प्रमोशन का आधार:
सूत्रों के अनुसार प्रथम वर्ष में परीक्षा नहीं हुई है, ऐसे में इस कक्षा के प्रमोशन में दो नियम लागू हो सकते हैं। पहला उसके इंटर के अंकों को आधार मानकर उसे द्वितीय वर्ष में प्रमोट कर दिया जाए। दूसरा नियम, प्रथम वर्ष में जो पेपर हो चुके हैं उसमें छात्र के नंबर कैसे हैं, उसके अनुसार उसके बाकी पेपर में भी नंबर दिए जाएं। द्वितीय वर्ष को प्रमोट करने के लिए प्रथम वर्ष के विषयवार नंबर आधार बनेंगे। फाइनल इयर में प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के विषयवार औसत नंबरों को आधार बनाया जा सकता है। हालांकि औसत नंबरों के बाद छात्रों को इंप्रूवमेंट या बैक पेपर देने का मौका मिलेगा ताकि वे अपने नंबरों को और बेहतर कर सकें।

फेसबुक, ट्विटर जैसे साइट्स पर छात्र लगा रहे गुहार – ‘प्लीज…प्लीज, यूजीसी गाइलाइंस करो रिलीज’

फाइनल ईयर और सेमेस्टर एग्जाम गाइडलाइन्स का इंतजार कर रहे छात्र सोशल मीडिया साइट्स पर बार-बार यूजीसी से रिक्वेस्ट कर रहे हैं। कई यूजर्स ने तो आयोग को टैग करते हुए ‘प्लीज…प्लीज, यूजीसी गाइलाइंस करो रिलीज’ का बार-बार निवेदन कर रहे हैं। आज जारी होने वाली फाइनल ईयर और सेमेस्टर एग्जाम यूजीसी गाइडलाइन्स 2020 का असर वैसे तो पूरे देश के विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों पर होगा।

यूजीसी की वेबसाइट पर ‘एरर मैसेज’:

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा आज फाइनल ईयर और सेमेस्टर एग्जाम यूजीसी गाइडलाइन्स 2020 जारी की जानी है, जिसे आयोग अपनी वेबसाइट ugc.ac.in पर जारी करेगा। फिलहाल यूजीसी की वेबसाइट काम नहीं कर रहा है और ‘एरर’ शो कर रही है।

एचआरडी मंत्री ने कहा छात्रों को देनी होंगी परीक्षाएं:

एक तरफ जहां फाइनल ईयर और सेमेस्टर एग्जाम यूजीसी गाइडलाइन्स 2020 के आज जारी होने का होने का इंतजार किया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने सम्बन्धित मामलें पर 24 जून को कहा था कि अंतिम वर्ष या सेमेस्टर के छात्रों को परीक्षाएं देनी होंगी। ऐसे में क्या फाइनल ईयर और सेमेस्टर के देश भर के लाखों छात्रों को एग्जाम से राहत मिलेगा, इसका फैसला आज यूजीसी गाइडलाइन्स 2020 से हो जाएगा।

Written by AU Beat Media

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading…

0

जानिए अपने शहर प्रयागराज (इलाहाबाद) के बारे में..

‘जिस छात्र को डिग्री दो उसे अपने यहां शिक्षक भी बनाओ’ वाला फॉर्मूला बरबाद कर रहा है